Beauty Tips: गर्मियों में मौइस्चराइजर क्यों है जरूरी

बदलते मौसम के साथ त्वचा में भी कई बदलाव देखने को मिलता है. त्वचा में होने वाले बदलाव को देख कर ही हम कौस्मेटिक का चयन करते हैं. जैसे सर्दीयों में मौइस्चराइजर का  भरपूर इस्तेमाल किया जाता है लेकिन गर्मी के आते ही मौइस्चराइजर का इस्तेमाल कम हो जाता है. दरअसल, गर्मियों में चिपचिपी त्वचा के डर से ज्यादातर महिलाएं में मौइस्चराइजर का इस्तेमाल बंद कर देती हैं. लेकिन क्या गर्मियों में सच में मौइस्चराइजर का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए? जी नहीं, गर्मी हो या सर्दी मौइस्चराइजर का इस्तेमाल आपकी त्वचा के लिए बहुत जरूरी है.

आइए, जानते है गर्मियों में मौइस्चराइजर का इस्तेमाल क्यों जरूरी है:

एक्सपर्ट का कहना है कि, “अधिकतर महिलाओं को लगता हैं की मौइस्चराइजर के इस्तेमाल से त्वचा औयली और चिपचिपी हो जाती है. इसलिए गर्मियों में मौइस्चराइजर का इस्तेमाल करना ही नहीं चाहिए. दरअसल, जब तापमान ज्यादा होता है तो मौइस्चराइजर आपकी त्वचा के लिए उतना ही जरूरी हो जाता है. और यह उन लोगों के लिए विशेष रूप से जरूरी है जो एसी में अधिक समय बिताते हैं.

ये भी पढ़ें- #lockdown: नई दुल्हन ट्राय करें ये आसान ब्यूटी टिप्स

जब हो कठोर त्वचा

गर्मी की शुरुआत होते ही त्वचा पर इसका असर दिखने लगता है. गर्मी का मौसम अपने साथ स्विमिंग और वाटर स्पोर्ट्स जैसी एक्टिविटी को लेकर आता है, जिसकी वजह से हमारी त्वचा चिलचिलाती धूप, स्विमिंग पूल के पानी में मौजूद क्लोरीन, और समंदर के खारे पानी जैसी चीजों के संपर्क में आने से खराब होने लगती है. खास कर तब जब उनकी सही देखभाल ना की जा रही हो. लेकिन सही रूप से देखभाल की जाए तो आप अपनी त्वचा को हानिकारक तत्वों से बचा सकते हैं.

जब तेज धूप का हो कहर

गर्मी के मौसम में धूप का होना वाजिब है. गर्मी की तेज धूप त्वचा को जलाने वाली होती है जिस से संबर्न, टैनिंग जैसी स्किन प्रौब्लम होने लगती है. ऐसे में संसक्रीन का इस्तेमाल त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाती है. लेकिन त्वचा की देखभाल के लिए सिर्फ संसक्रीन ही काफी नहीं है, संसक्रीन के बाद त्वचा पर अच्छे से मौइस्चराइजेसन करने से वो कोमल और किसी भी तरह की त्वचा संबंधित दिक्कतों से बच जाती है. आप गर्मी में मौइस्चराइजर बैस्ड संसक्रीन का भी इस्तेमाल कर सकती हैं.

 कैमिकल से बचने के लिए

गर्मियों आते ही हमारे कई सारे प्लान बनने लगते हैं जैसे कभी वाटर पार्क घूमने जाना, पूल पार्टी करना या बच्चों के साथ स्विमिंग क्लास्स जौइन कर लेना. लेकिन हम ये भूल जाते है की वाटर पूल में क्लोरीन नाम का कैमिकल मिलाया जाता है जो त्वचा के लिए हानिकारक होता है. यदि आप पूल में अधिक समय बिताते हैं तो अपने शरीर को अच्छी तरह क्लीन जरूर करें. त्वचा को क्लीन करने के बाद मौइस्चराइजर का इस्तेमाल जरूरी है. मौइस्चराइजर आपकी त्वचा की गहराई में जा कर त्वचा को पोषण प्रदान करता हैं. त्वचा को सही मात्रा में पोषण मिलना बहुत जरूरी है. यह त्वचा को नुकसान पहुंचने से रोकता है.

गर्मियों में रूखी त्वचा

गर्मियों में अधिकतर महिलाओं को लगता है की गर्मियों में त्वचा ड्राई नहीं होती. लेकिन यह उनकी गलतफहमी है. दरअसल गर्मियों में हमारा ज़्यादातर समय धूप, स्विमिंगपूल, और एयर कंडीशनिंग में बीतता है. यहां तक की हम कुछ ऐसे ब्यूटी प्रौडक्ट का इस्तेमाल करते है, जिस में क्लोरीन ज्यादा होता है. इनकी वजह से हमारी त्वचा शुष्क और बेजान नजर आने लगती है. इन से निबटने के लिए ईमोलिएंट्स, यानी त्वचा को सौम्य और कोमल बनाने वाले प्रौडक्ट का इस्तेमाल करना चाहिए,  जैसे की मौइस्चराइजर, रोजाना मौइस्चराइजर का इस्तेमाल आपकी त्वचा के लिए फायदेमंद होता है. इस में ईमोलिएंट्स गुण पाए जाते है, जो त्वचा को ड्राई होने से बचाते है और त्वचा को निखारते भी है.

त्वचा विशेषज्ञा भी मौइस्चराइजर इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं क्योंकि यह त्वचा पर  एक सुरक्षा परत बना कर जर्म्स और अन्य हानिकारक चीज़ों से बचाता है.

बदलते मौसम के साथ स्किन कैयर है जरूरी

त्वचा को बाहर के मौसम का कोई अंदाजा नहीं होता, इसीलिए त्वचा की खास देखभाल हर मौसम में जरूरी है. देखा जाए तो हम से बहुत से लोग साल भर त्वचा से जुड़ी परेशानियों से जूझते हैं. यानी अगर आपकी त्वचा सर्दियों में ड्राई रहती है तो आपको गर्मियों में भी एक ऐसे मौइस्चराइज़र का इस्तेमाल करना चाहिए, जिसका गाढ़ापन आपकी त्वचा अच्छे से नारिश करे. मौइस्चराइजर लगाते समय एक बात का ध्यान जरूरी दें कि मौइस्चराइजर अल्कोहल-बेस्ड  न हो. अल्कोहल बेस्ड मौइस्चराइजर आपकी त्वचा से अच्छे और ज़रूरी तेलों को हटा कर उसे और भी ज़्यादा नुक्सान पहुंचा सकते हैं.

जब हो ओपन पोर्स की दिक्कत

एक अच्छी हेल्दी स्किन के लिए क्लींजिंग, टोनिंग, और मॉइस्चराइज़िंग बहुत जरूरी है. हालांकि लोगों को ऐसा लगता है कि गर्मियों में होने वाले पसीने की वजह से उनकी त्वचा सूखी नहीं होगी, पर पसीने के वजह से त्वचा के छिद्र खुल जाते हैं. इन्हें वापस बंद करने के लिए आपको टोनर इस्तेमाल करने की जरुरत पड़ेगी, और टोनर के बाद मौइस्चराइज़र का इस्तेमाल करने से आपकी त्वचा खिल खिला उठेगी.

जब त्वचा से निकले अधिक पसीना

गर्मी के मौसम में त्वचा औयली हो सकती है, पर इसका ये मतलब नहीं कि आपकी त्वचा को मौइस्चराइज़र की जरुरत नहीं. दरअसल गर्मीयों के मौसम में ज़्यादा पसीना आने की वजह से त्वचा का मौइस्चर खो जाता है. बढ़ती गर्मी और धूप की वजह से आपकी त्वचा से पानी निकल जाता है. ऐसे में आपको आपकी त्वचा को हाइड्रेटेड रखने के लिए सिर्फ ज़्यादा पानी पीने और पानी की अधिक मात्रा वाले भोजन खाने पर निर्भर नहीं रहना चाहिए. बल्कि आपको सही मौइस्चराइज़र का इस्तेमाल भी करना चाहिए, जो आपकी त्वचा में मौइस्चर की मात्रा बनाए रखे.

ये भी पढ़ें- एक्सपर्ट से जानें Quarantine में आसानी से कैसे करें हेयर स्पा

गर्मियों में कैसे करें मौइस्चराइजर का यूज

मौइस्चराइजर हमारी त्वचा के लिए कितना जरूरी है यह तो हम जान चुके है. लेकिन इसके साथ गर्मियों में मौइस्चराइजर का इस्तेमाल कब करना चाहिए यह भी जानना जरूरी हैं.

  • नहाने के बाद मौइस्चराइजर का इस्तेमाल जरूरी करें. यह आपकी बौडी को हाइड्रेट रखती है और त्वचा में नमी बनाए रखती है.
  • आप को यदि ज्यादा पसीना आता है तो तो आप मौइश्चराइजर मास्क और टोनर का इस्तेमाल भी कर सकती है.
  • धूप में निकालने से पहले संसक्रीन के साथ मौइश्चराइजर का भी इस्तेमाल करें.
  • सिर्फ चेहरे को ही मौइस्चराइज न करें.

मैं जब भी धूप में जाती हूं तो मेरी त्वचा लाल होने लगती है, इसका क्या कारण है?

सवाल-

मैं 28 साल की युवती हूं. मैं जब भी धूप में जाती हूं तो मेरी त्वचा लाल होने लगती है और त्वचा में सूजन भी दिखने लगती है. ऐसा क्यों होता है?

जवाब-

धूप में गाल और कानों का लाल होना आम बात है. लेकिन यदि आप की त्वचा पर लालपन के साथ-साथ सूजन और जलन भी हो रही है तो इस का मतलब है कि आप को धूप से ऐलर्जी है. ऐसे में बाहर जाने से 20 मिनट पहले सनस्क्रीन का इस्तेमाल जरूर करें और खुद को कवर कर के निकलें. यदि आप को यह समस्या अधिक हो रही है तो आप एक बार किसी अच्छे स्किन डाक्टर से संपर्क जरूर करें.

ये भी पढ़ें-

गर्मियों के मौसम में आप चाहे कितनी भी कोशिश करें घर से बाहर ना निकलने की पर किसी ना किसी वजह से हमें घर से बाहर जाना ही पड़ता है. रोज रोज धूप में जाने की वजह से आपको सनबर्न या टैनिंग जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है. ऐसे में इससे बचने के लिए त्वचा को खास देखभाल की आवश्यकता होती है. जानिए सनबर्न से त्वचा को सुरक्षित रखने के कुछ बहुत ही आसान लेकिन प्रभावशाली उपाय जो आपकी त्वचा को निखारने के साथ ही साथ आपकी खूबसूरती पर चार चांद लगा देगा.

– जितना हो सकें सुबह 10 बजे से लेकर शाम छह बजे के बीच धूप में निकलने से बचने की कोशिश करें, क्योंकि इस दौरान तेज धूप होती है. लेकिन अगर इस समय आपको घर से बाहर जाना ही पड़ता है तो आप अपने साथ हमेशा सनस्क्रीन रखें. सनस्क्रीन लगाए बिना घर से बाहर नहीं निकलें. बाहर निकलने से कम से कम 15 मिनट पहले सनस्क्रीन लगाएं और हर दो-तीन घंटे पर इसे लगाते रहे. त्वचा के अनुसार सन प्रोटेक्शन फैक्टर (एसपीएफ) 15 या इससे ज्यादा एसपीएफ वाला सनस्क्रीन लगाएं.

– होठों, कानों, स्कैल्प और पैरों को नजरअंदाज न करें. शरीर के इन अंगों की देखभाल को आम तौर पर हम अनदेखा कर देते हैं. आजकल एसपीएफ युक्त लिप बाम आ रहे हैं, जिनका आप इस्तेमाल कर सकती हैं. पैरों को जूते या मोजे से ढककर रखें, जबकि सिर और कानों को आप स्कार्फ से ढक सकती हैं. अपने पैरों और कानों पर भी सनस्क्रीन लगाना नहीं भूलें.

पूरी खबर पढ़ने के लिए- यूं करें सनबर्न से अपनी त्वचा की सुरक्षा

#lockdown: नई दुल्हन ट्राय करें ये आसान ब्यूटी टिप्स

श्रुति की शादी को अभी 10 दिन भी नहीं हुए थे कि लौकडाउन हो गया. कहां तो श्रुति सोच रही थी कि और वह और रोहन हनीमून के लिए सिंगापुर जाएंगे परंतु कोरोना के कारण हनीमून तो दूर उन्हें घर में कैद होना पड़ गया. नई शादी, नए रिश्ते और ढेर सारे सपने. श्रुति भी हर नई दुलहन की  तरह सुंदर दिखना चाहती थी. परंतु सारे पार्लर बंद थे. श्रुति बेहद परेशान थी कि कैसे वह इस समय अपनी ब्यूटी केयर कैसे करे, क्योंकि श्रुति तो हर चीज के लिए पार्लर ही जाती थी.

लौकडाउन का एक हफ्ता बीत गया था और श्रुति को अपने चेहरे और अपर लिप्स पर रोएं साफ नजर आ रहे थे. श्रुति को यह समस्या बचपन से थी और जब से वह 18 वर्ष की हुई थी हर 15 दिन बाद वह इन बालों से पार्लर जा कर छुटकारा पा लेती थी. परंतु अब क्या करे?

बालों की प्रैसिंग भी खत्म हो गई थी और श्रुति को अपने बाल झाड़ू जैसे लग रहे थे और रहीसही कसर एकाएक ऐक्ने के हमलों ने कर दी थी. श्रुति अब रोहन के नजदीक नहीं आना चाहती थी. उसे बेसब्री से लौकडाउन के खुलने का इंतजार था.

परंतु लौकडाउन फिर से 19 दिन के लिए बढ़ा दिया गया और यह भी नहीं पता था कि 3 मई को भी ये खुलेगा या नहीं. परंतु इस समय श्रुति की मौसी ने उसे रसोई में छिपे सौंदर्य के खजाने से परिचित करवाया और श्रुति को अब लग रहा है कि अगर पार्लर नहीं भी खुले तो भी वह अपना नूर बरकरार रख पाएगी.

ये भी पढ़ें- Mother’s Day 2020: स्मार्ट मेकअप टिप्स से करें गरमी में सीसी क्रीम से दोस्ती

ब्यूटी टिप्स

– बेसन और हलदी हर किसी की स्किन के लिए ठीक होता है परंतु अगर स्किन रुखी है तो मलाई और यदि तैलीय है तो नींबू का रस मिला कर आप लेप बना सकती हैं. नहाने से 10 मिनट पहले चेहरे पर या अगर चाहे तो पूरे शरीर पर भी लगा कर छोड़ सकती हैं. इस से आप के चेहरे की मृत स्किन बड़े आराम से निकल जाती है और चेहरा दमकने लगता है. वहीं शरीर के बाकी हिस्सों के लिए बौडी पौलिशिंग का काम करेगा.

– रात को सोने से पहले ऐलोवेरा जैल लगा कर छोड़ दें, अगर कोई दागधब्बे हैं तो वह रात भर उन पर कार्य करेगा साथ ही साथ नए ऐक्ने होने से रोकेगा भी.

– यदि ऐक्ने की समस्या है तो जायफल या लौंग को घिस कर उस स्थान पर लगा लें. तीन

दिन के अंदर ही ऐक्ने सूख जाएंगे और दाग भी नहीं छोड़ेंगे.

– चेहरे पर बालों की समस्या से घबराएं नहीं, लाल मसूर की दाल रात भर भिगो दें और सुबह उसे मिक्सी में पीस कर चेहरे पर लगा दें. जब सूख जाए  तो धीरेधीरे हटा लें, इस लेप से चेहरे के बालों से काफी हद तक छुटकारा मिल जाएगा.

– हर नई दुल्हन की मेकअप किट में ब्लीच अवश्य होता है तो आप घर पर भी निर्देशानुसार ब्लीच कर सकती हैं. इस से आप के चेहरे के मुलायम रोएं छुप जाएंगे और जो थोड़ेबहुत रोएं रह जाएंगे उस के लिए आप प्लकर का इस्तेमाल कर सकती हैं.

– आइब्रो को भी काफी हद तक प्लकर की मदद से संवार सकती हैं. परंतु रोज प्लक करने की भूल मत करें. हर तीसरे या चौथे दिन आप ऐक्सट्रा ग्रोथ को प्लक कर सकती हैं.

– अगर बाल रूखे हैं तो धोने से पहले नारियल का तेल और दही का मिश्रण जरूर लगाएं. बाल मुलायम और चमकदार हो जाएंगे.

– मेथी दानों को भी रात भर भिगा कर रखें, सुबह उन का पेस्ट बना कर बालों में लगा लें, बाल मजबूत और रेशमी हो जाएंगे.

– चेहरे का ग्लो बरकरार रखने के लिए दही से 5 से 7 मिनट चेहरे पर मसाज करिए और फिर चेहरा धो लीजिए.

– कुहनी और घुटनों पर नींबू के छिलके रगड़ने से उन की मृत स्किन हट जाएगी और कालापन भी दूर होगा.

ग्लोइंग और बेदाग स्किन के लिए

नई दुलहन का दमकता ग्लो बरकरार रखने में ये टिप्स आप के बेहद काम आएंगे:

दागधब्बों के लिए: दागधब्बों और रिंकल्स से छुटकारा पाने के लिए बादाम बहुत कारगर है. इस के लिए बादाम को पीस कर उस में 1 चम्मच शहद व कुछ बूंदे नीबू का रस मिलाएं. तैयार पैस्ट को 10 मिनट चेहरे पर लगाने के बाद पानी से धो लें. इस से दागधब्बे व रिंकल्स काफी हद तक कम ने लगेंगे. यह पेस्ट हफ्ते में 2 बर लगा सकती है.

स्क्रबिंग: स्क्रबिंग के लिए बेसन और ओटमील का कोई जवाब नहीं. बेसन में कच्चा दूध मिला कर चेहरे, कोहनी और हथेलियों के पिछले हिस्से की स्क्रबिंग कर सकती हैं. ओटमील में शहद और कच्चा दूध मिला कर स्क्रबिंग करने के नतीजे भी काफी अच्छे होते हैं. यदि स्किन संवेदनशील है तो हलके हाथों से हफ्ते में एक बार ही मसाज करें.

रूखी स्किन के लिए: यदि स्किन ज्यादा रूखी है तो रात को सोने से पहले नारियल या जैतून के तेल से चेहरे गर्दन की सर्कुलर मोशन में मसाज करें. स्किन को ऐक्सफोलिएट करना चाहती हैं तो तौलिया गरम पानी में डप करें और मसाज के बाद कुछ देर उस से चेहरा ढंक लें.

अनचाहे बाल: चेहरे के अनचाहे बालों को हटाने के लिए बेसन का सदियो से इस्तेमाल हो रहा है. बेसन में एक चुटकी हलदी, पानी और कुछ बूंदें सरसों के तेल को मिला कर प्रभावित जगह पर हलके हाथों से मसाज करें. ऐसा हफ्ते में 2 बार करने से धीरेधीरे बाल कम होने लगेंगे. यदि सरसों के तेल से स्किन पर जलन की समस्या होने की शिकायत है तो इसे इस्तेमाल न करें.

ये भी पढ़ें- Mother’s Day 2020: समर में 10 टिप्स से बनाएं स्किन को हेल्दी

ब्लैकहेड्स: ब्लैकहेड्स की समस्या से छुटकारा पाने के लिए चीनी, शहद और नीबू के रस का इस्तेमाल करें. इन तीनों को मिला कर थोड़ा सा थिक मिश्रण तैयार करें और प्रभावित जगह पर हलके हाथों से क्लौक और ऐंटीक्लौक वाइज मसाज करें. ध्यान रखें कि ज्यादा रगड़ें नहीं वरना स्किन को नुकसान पहुंच सकता है. ऐसा 10 दिन में एक बार करें.

याद रखिए कि लौकडाउन केवल संक्रमण रोकने के  लिए है परंतु आप छोटेछोटे उपायों से अपने सौंदर्य को बरकरार रख सकती हैं.

मेरे होंठ काले होने लगे हैं, क्या यह लिपस्टिक की वजह से है?

सवाल-

मैं 22 साल की युवती हूं. मुझे लिपस्टिक लगाना बहुत पसंद है. लेकिन मेरे होंठ अब काले होने लगे हैं. क्या यह लिपस्टिक की वजह से है?

जवाब-

लिपस्टिक लगाने से होंठ काले जरूर होते हैं, लेकिन यह तब होता है जब आप की लिपस्टिक में कोई कमी हो. इस के लिए बेहतर यही होगा कि आप अच्छी गुणवत्ता यानी अच्छी क्वालिटी की लिपस्टिक का इस्तेमाल करें. यदि आप चाहती हैं कि होंठ काले न हों तो रोज रात को सोने से पहले होंठों से लिपस्टिक साफ कर लें और बादाम या नारियल का तेल होंठों पर लगा कर सोएं. होंठों का कालापन दूर करने के लिए आप एलोवेरा जैल का भी इस्तेमाल कर सकती हैं.

ये भी पढ़ें- 

चेहरा हमारे व्यक्तित्त्व का आईना होता है. यही कारण है कि हर महिला अपने चेहरे को खूबसूरत बनाने के लिए बहुत से जतन करती है. लेकिन यह भी सच है कि चेहरा तभी खूबसूरत दिखाई देता है जब त्वचा बेदाग व होंठ गुलाबी हों. फटे और टैन होंठ चेहरे की सुंदरता को फीका कर देते हैं.

इस में सब से ज्यादा चिंता की बात यह है कि महिलाएं अपने शरीर के अन्य पार्ट्स की टैनिंग को ले कर तो बहुत जागरूक होती हैं, लेकिन लिप्स की टैनिंग को ले कर बिलकुल भी अवेयर नहीं होती हैं. जानिए, होंठों की देखभाल करने के कुछ महत्वपूर्ण टिप्स :

1. कई बार होंठों पर घटिया किस्म का कौस्मैटिक यूज करने से भी होंठ टैन हो जाते हैं या फिर जरूरत से ज्यादा कौस्मैटिक के प्रयोग से भी होंठों का रंग गहरा पड़ सकता है.

2. धूम्रपान की वजह भी होंठ काले हो जाते हैं.

पूरी खबर पढ़ने के लिए- लिप्स की टैनिंग को कहें बाय-बाय

समर में 10 टिप्स से बनाएं स्किन को हेल्दी

टेम्परेचर बढ़ने के साथ ही साथ गर्मियों का आगमन हो गया है. समर्स आने के साथ दिनों दिन ह्यूमिडिटी और गर्मी भी बढ़ती जा रही है. यह चिलचिलाती गर्मी, पल्युशन और ह्यूमिडिटी स्किन की नेचुरल चमक को मिटा सकती है और कभी-कभी अनेक प्रकार के स्किन इन्फेक्शन्स को भी आमंत्रित कर सकते हैं. गर्मियों में ऑयली स्किन और ज्यादा ऑयली और ड्राई स्किन और ज्यादा रफ़ और खुरदरी दिखाई देने लगती हैं.

गर्मियों में हार्श सनलाइट अधिक मेलेनिन पिगमेंट्स का प्रोडक्शन करके स्किन टैनिंग का कारण बन जाती है और अधिक मेलेनिन डार्क स्किन, उम्र के साथ सनबर्नड स्किन और कैंसर का कारण बन जाती है. समर्स के दौरान गर्मी स्किन के छोटे-छोटे पोर्स खोल देती हैं, जिससे ऑयल और गन्दगी उसमे फंस जाती है. इसके कारण स्किन पर पिम्पल्स और एक्ने जैसी अनेक तरह की बीमारियाँ होने का खतरा ज्यादा होता है. ऐसे में अपनी स्किन को बीमारियों से बचाने के लिए आप कुछ टिप्स अपना सकते हैं.

गर्मियों में हेल्दी स्किन के लिए टिप्स- डॉ. अजय राणा

विश्व प्रसिद्ध डर्मेटोलॉजिस्ट और एस्थेटिक फिजिशियन, संस्थापक और निदेशक, आईएलएएमईडी बता रहे 10 हेल्दी टिप्स.

1. फेशिअल स्किनकेयर रूटीन के लिए हमेशा एंटीऑक्सीडेंट्स का इस्तेमाल करें. यह एंटीऑक्सीडेंट सीरम स्किन को हाइड्रेट करता है और अनेक तरह के एनवायर्नमेंटल डैमेज से भी स्किन को बचाता है. ये एंटीऑक्सिडेंट कोलेजन प्रोडक्शन को बढ़ावा देने में मदद करते है और हानिकारक फ्री रैडिकल्स से स्किन के नुकसान को रोकते हैं.

ये भी पढ़ें- Mother’s Day 2020: नेल आर्ट से हाथों को बनाएं और खूबसूरत

2. समर्स वह समय है जब स्किन को ह्यूमिडिटी के साथ-साथ हाइड्रेशन की आवश्यकता होती है. इसीलिए गर्मियों में खासकर खूब पानी पिए और नियमित रूप से अच्छे हाइड्रेटिंग मास्क का उपयोग करें. इन मास्क का उपयोग स्किन लेयर को रिपेयर, रिहाइड्रेट और शांत करने के लिए किया जाता है.

3. गर्मियों में, समर्स के लिए उपयुक्त प्रोडक्ट्स का उपयोग करें. गर्मियों में, उन उत्पादों का उपयोग करें जो आपकी स्किन को नेचुरल रूप से साँस लेने दें. हल्के लोशन और सीरम का उपयोग करें जो आपकी स्किन को हेल्दी और स्मूद बनाये.

4. समर में, जब भी बाहर जाते हैं तो सूरज की यूवी रेज़ आपकी स्किन के लिए हानिकारक हो सकती है. इसलिए ऐसी सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें जो आपकी स्किन में चमक लाए और आसानी से एब्सॉर्ब हो जाए. गर्मियों में उपयोग करने के लिए मिनिमम 30 एसपीएफ़ वाला सनस्क्रीन सबसे अच्छा होता है.

5. नींबू और टमाटर को अपनी स्किन में लगायें. ये आपकी स्किन को फ्रेश बनाए रखने के लिए बहुत अच्छे होते हैं. टमाटर के रस का उपयोग करें और नियमित बर्फ-ट्रे का उपयोग करके रस को फ्रीज करें. इसे सौम्य के स्क्रब रूप में नियमित रूप से इस्तेमाल करें और रस को स्किन की लेयर पर पहले सूखने दें, फिर इसे पानी से धो लें. टमाटर में मौजूद लाइकोपीन हेल्दी स्किन केलिए बहुत अच्छा होता है.

6. गर्मियों के दौरान हेल्दी स्किन के लिए बेसिक स्किनकेयर रूटीन सबसे महत्वपूर्ण रूल है कि अपनी स्किन को एक्सफोलिएट करें. गर्मियों में बॉडी ड्राईनेस के कारण स्किन सेल्स को छोड़ देती है. इसके लिए एक नियमित इंटरवल पर स्किन को एक्सफोलिएट करें इससे स्किन की डलनेस और ड्राई लेयर दूर हो जाती है.

7. समर्स के दौरान कम मेकअप का इस्तेमाल सबसे अच्छा होता है. हार्श धूप और चिलचिलाती गर्मी के समय नेचुरल लुकऔर नेचुरल स्किन ही सबसे अच्छी होती है. कम से कम मेकअप का इस्तेमाल करें जैसे फाउंडेशन, पैची स्किन से बचने के लिए एसपीएफ़ वाले फेस पाउडर का इस्तेमाल करें. अपने होठों को ड्राई होने से बचाने के लिए ग्लॉस का इस्तेमाल करें.

8. हमेशा एक अच्छे गर्मियों के लोशन के साथ अपनी बॉडी को हाइड्रेट रखें. इससे आपकी स्किन हाइड्रेट होती है और यह स्किन को स्मूद और ग्लोइंग भी बनाता है.

9. गर्मियों के दौरान विटामिन सी बहुत महत्वपूर्ण है, विटामिन सी हाईपरपिगमेंटशन को रोकने में, स्किन की फाइन लाइन्स को इम्प्रूव करने और स्किन लेयर पर कॉलेजन के प्रोडक्शन में मदद करता है. क्लींजिंग और मॉइस्चराइजर के दौरान विटामिन सी की कुछ ड्रॉप्स का इस्तेमाल करने से यह हेल्दी स्किन में काफी मदद कर सकता है.

ये भी पढ़ें- जानें साल के नए हेयर कलर ट्रैंड

10. स्किन के लिए एक अच्छा टोनर इस्तेमाल करें, एक अच्छा टोनर स्किन के सभी पोर्स को खोलने में मदद करता है. गर्मियों के दौरान यह ऑयल एक्युम्युलेशन को रोकने के लिए सबसे जरुरी है. चेहरे की स्किन के टी-ज़ोन में सिबेसियस ग्लैंड्स की सबसे ज्यादा कॉनसेनट्रेशन होती है और यह गर्मियों के दिनों में सबसे अच्छे तौर पर दिखतें है. इसलिए हेल्दी स्किन के लिए एक अच्छा टोनर सबसे अच्छा समाधान है.

नेल आर्ट से हाथों को बनाएं और खूबसूरत

नेल पेंट्स  हमेशा से ही लड़कियों व  महिलाओं की पसंद रही हैं. कलर फुल नेल पेंट्स के जरिए वे अपने नेल्स को सुंदर व आकर्षक बनाती हैं. हालांकि कौस्मेटिक की दुनिया में भी चेंज आ जाने से अब नेल पेंट्स की भी कई वैरायटी आने लग गई हैं. शिमर, ग्लिटर बेस्ड नेल पेंट्स के साथसाथ अब इन दिनों सोक ऑफ नेल पेंट का भी इस्तेमाल किया जा रहा है. सोक औफ नेल पेंट जेल बेस्ड होती हैं , जो सिंगल कोट में ही शाइन करती है व लोंग लास्टिंग होती है. हौट पिंक, ब्राइट रेड, पॉपी ऑरेंज जैसे शेड्स हाथों की खूबसूरती में चारचांद लगाने का काम करते हैं.

इसके साथ ही इन दिनों नेल पेंस का भी खूब इस्तेमाल हो रहा है. इसकी मदद से नेल्स पर किसी भी तरह की आर्ट को आसानी से बनाना जा सकता है. नेल आर्ट करवाने से हाथ ज्यादा खूबसूरत दिखते हैं. इसमें  नेल्स के लिए ख़ास चितकारी और मीनाकारी करते हुए फूल पत्तियां , डौलफिन , तितली आदि डिजाइन बनाए जाते हैं और ऊपर से स्टड्स लगाकर इसे और भी आकर्षक बनाया जाता है. इसके अलावा आर्ट के तौर पर नेल्स पर हीरे-मोती या कुंदन जड़कर खास मीनाकारी भी की जाती है. मीनाकारी द्वारा नेल्स को आभूषणो की तरह ही सजाया जाता है. लेकिन घर में नेल आर्ट कैसे करें  ये जानते हैं गुडगांव के गेट सेट सैलून की प्रियंका बिस्ट से. जिनका कहना है कि  सौंदर्य क्षेत्र में हाथों की खूबसूरती को लेकर कई प्रयोग हुए हैं. मैनीक्योर से ऊपर उठकर अब नेल हार्ट को लेकर युवतियों व  महिलाओं में क्रेज बढ़ता जा रहा है.

ये भी पढ़ें- खूबसूरत स्किन के लिए सोने से पहले करें ये 11 काम

नेल आर्ट में भी सामान्य से लेकर कलाकृतियों वाली डिज़ाइन आ गई है. आप अपने नेल्स पर कई  तरह की नेल आर्ट्स कर सकती है. जैसे फ्रेंच नेल आर्ट , ये नेल आर्ट बहुत सिंपल होती है, लेकिन देखने में काफी ग्रेसफुल लगती है . यदि आप क्रिएटिव सोच रखने वाली  हैं तो अपने नाखूनों पर ग्राफ़िक प्रिंट के डिज़ाइन भी बनवा सकती हैं. कुछ डिज़ाइन जो आजकल ट्रेंड में हैं वो इस प्रकार हैं.

1 फूटी फ्रेश डिजाइन

फंकी लुक पाने के लिए आप किसी भी फ्रूट को ध्यान में रखकर कलर और डिज़ाइन  सेलेक्ट  करें. जैसे स्ट्रॉबेरी के लिए सबसे पहले रेड कलर का नेल्स पर पेंट लगाएं . फिर टिप्स पर ग्रीन कलर का डिज़ाइन बनाएं और बाकी के हिस्से पर रेड के ऊपर डॉट्स लगाएं.

 

View this post on Instagram

 

🥝💙SHADE NAME- KIWI LOVE🥝💙 A pastel shade from @missnailsforyou. I am in love with this nail color😚 Grab this from- @mynykaa @letspurplle @flipkart @missnailsforyou 🌟SHADE NAME- FAMOUS GOLD🌟 Golden shimmer glitter texture🤩 A perfect golden for your pretty nails from @lovecolorbar 🌟 Grab this from- @mynykaa @letspurplle @lovecolorbar #nailsofinstagram #nailsonfleek #nailart #nailgram #nails2inspire #nails #nails2020 #nailartjunkie #nailjunkie #nailartist #naildesigns #summervibes #summernails2020 #goldenshine #goldenshimmer #colorbarnails #missnailsforyou #glossynail #glossynailpolish #goldennails #dotticure #dottednails #polkadotnails #passion #indiannails #indiannailartist

A post shared by Khushpreet Kaur (@alwaysbossynails) on

2. स्वीट डेजर्ट डिजाइन

स्वीट डेज़र्ट के लिए कप केक का डिज़ाइन बेस्ट है. जिसके लिए न्यूट्रल बेस कलर सेलेक्ट करें और फिर कप केक का काम करेगी टिप पर ड्रा होने वाली लाइट और डार्क शेड  की लाइन. उसके ऊपर क्रीम कलर का कप केक डिज़ाइन करके केक को डौट्स से सजाएं और ऊपर रेड कलर की चेरी ड्रा करें या चाहें ग्लिटर से डिज़ाइन को और अट्रैक्टिव बनाएं.

 

View this post on Instagram

 

#дизайннадлинныхногтях #френч #стразы #ногти #гельлак #маникюр #красивыеногти #дизайн #дизайнногтей #педикюр #маникюрдня #длинныеногти #ноготочки #короткиеногти #лунныйманикюр #красота #фотоногтей #лучшиеногти #инстаногти #инстаманикюр #современныеногти #дизайннакороткихногтях #втиркананогтях #матовыйманикюр #амбренаногтях #nailart #gelpolish #manicure #gelpolishnailart #manicure_life_style

A post shared by МАНИКЮР • ДИЗАЙН (@manicure_life_style) on

3. पोल्का डौट्स डिजाइन

पोल्का डौट्स डिज़ाइन बहुत सिंपल है, जिसके लिए 2 कलर के बेस कलर और टिप्स बनाने के लिए 2 ही कलर के कलर सेलेक्ट करें. अब 3 नेल्स पर एक ही  बेस कलर और टिप कलर लगाएं बाकी 2 पर दूसरा कलर व बेस कलर लगाएं. अब सफेद या अपने मनपसंद कलर से पोलका डॉट्स बनाएं . वैसे आप अपनी क्रिएटिविटी के हिसाब से कोई भी कलर का इस्तेमाल कर सकती हैं.

4. एनिमल प्रिंट डिजाइन

यह बहुत ही ट्रेंडी डिज़ाइन है. आप ज़ेबरा प्रिंट नेल आर्ट में ऐसा  कर सकती हैं. यह आपको काफी कूल लुक देगा.

5. रेनबो डिजाइन

आप सात रंगों को नेल्स पर उतारकर बहुत ही अट्रैक्टिव लुक पा सकती हैं. इसके लिए बस आपको सात रंगों की मदद से नेल्स पर रेनबो ड्रा करना है  फिर देखिए आपके नेल्स कितने अट्रैक्टिव लगेंगे. आर्ट के सूखने के बाद आप चाहें तो उन्हें शाइनर से भी सील कर सकती हैं. बस ध्यान रखें कि  नेल आर्ट को पूरी तरह सूखने का मौका दें. वरना आपकी सारी मेहनत  पर पानी फिर जाएगा.

इन बातों का भी रखें खास ख्याल

1. अगर आपके नेल्स जल्दी टूटते हैं तो आप अपनी डाइट का खास ख्याल रखें. हरी पत्तेदार सब्ज़ियाँ व फ्रूट्स को अपनी डाइट में ज्यादा से ज्यादा शामिल करें.

2. नेल्स की चमक को बढ़ाने के लिए नींबू के छिलके को नेल्स पर  रगड़ें या फिर हलके कुनकुने पानी में नींबू  का रस मिलाकर उस पानी  में अपने हाथों को डुबोएँ. आप कुछ ही दिनों में अपने नेल्स में परिवर्तन देखने लगेंगी.

3. इस बात का खास ध्यान रखें कि नेल्स को मुँह से व ब्लेड से कभी न कांटे.  नेल कटर की मदद से ही नेल्स की ट्रिंमिंग करके उन्हें शेप दें.

4. नेल्स को सेफ रखने के लिए नेल पोलिश लगाने से पहले नेल बेस कोट लगाएं .

5. नेल पोलिश व नेल रिमूवर अच्छी क्वालिटी का ही यूज़ करें. वरना नेल्स के  पीला पड़ने का डर बना रहता है.

ये भी पढ़ें-Janmashtami Special: इस फेस्टिव सीजन में ट्राय करें ये हेयरस्टाइल

जानें साल के नए हेयर कलर ट्रैंड

हेयर कलर ट्रैंड्स आज फैशन इंडस्ट्री की पहचान हैं और इन्हें न अपना कर आप अपने लुक के साथ कौंप्रौमाइज ही कर रही हैं. स्टाइलिश हेयरकट और हेयर कलर कराना किस लड़की को पसंद नहीं. ब्राउन, रैड और ब्लौंड तो हमेशा से ट्रैंड में रहा ही है.

अब यह ट्रैंड हर साल बदल रहा है. सो, लड़कियों की पसंद भी बदलती रहती है. इसी पसंद को देखते हुए स्टाइलिस्ट नएनए हेयर  ट्रैंड्स इंट्रोड्यूस करते रहते हैं. हेयर कलर इसलिए भी ट्रैंड में रहते हैं क्योंकि यह न केवल आप की पर्सनैलिटी को बदलते हैं बल्कि आप में एक अलग किस्म का कौन्फिडैंस भी भर देते हैं. इसीलिए तो आज हर क्षेत्र की लड़कियां चाहे बौलीवुड अदाकारा हों या कालेजगोइंग या जौब करने वाली हों, सभी ट्रैंडी हेयर कलर्स कराती हैं.

हेयर कलर अकसर मौसम और अवसर के आधार पर कराए जाते हैं. हेयर कलर को देखते ही कोई व्यक्ति इस का अंदाजा लगा लेता है कि आप किस तरह के व्यक्ति हैं. ब्राइट कलर्स जहां बोल्ड लुक देते हैं वहीं लाइट कलर्स से माइल्ड लुक आता है. सही हेयर कलर पाने के लिए आप ऐक्सपर्ट की सलाह ले सकते हैं जिस से कि आप का हेयर  कलर आप के लिए डिजास्टर नहीं बनेगा.

ये भी पढ़ें- जब कराएं पहली बार हेयर कलर

इस बारे में लैक्मे सैलून की नैशनल क्रिएटिव डायरैक्टर पूजा सिंह बताती हैं, ‘‘कलर के ट्रैंड को पकड़ना मुश्किल होता है. इस के लिए आज की लड़कियों की जरूरतों को ध्यान में रखना पड़ता है. इस में मैं ने यह ध्यान दिया कि महिलाएं अधिकतर रसोई में रहती हैं और किसी भी व्यंजन को एक अलग स्वाद देने के लिए वे गरममसाला प्रयोग करती हैं. वहीं से मैं ने प्रेरणा ली. इन मसालों के रंग अलगअलग होते हैं. ये हेयर कलर भी इन्हीं मसालों के आधार पर क्रिएट किए गए हैं. ‘‘इस के अलावा आजकल लड़कियां सफेद बाल होने पर अधिक घबराती नहीं. वे इसी को नए रंग से सजाना पसंद करती हैं. वे हमेशा एक बैलेंस हेयर कलर चाहती हैं और मेरी कोशिश यह रहती है कि उन की पसंद के अनुसार हेयर कलर लगाए जाएं.

कुछ लोग भड़कीले रंग पसंद करते हैं तो कुछ हलके रंग चाहते हैं. उन के अनुसार ही ये कलर्स बनाए जाते हैं. रिच सिनेमन यानी दालचीनी, जायफल से ले कर सैफरौन, मस्टर्ड और कोकम आदि सभी हेयर कलर इस बार ट्रैंड में हैं.’’पूजा आगे बताती हैं, ‘‘सफेद बाल वाले भी आसानी से कलर लगा कर गौर्जियस लुक पा सकते हैं. इस में पूरे बालों को रंगने की जरूरत नहीं होती.

लंबी स्ट्रिप्स ग्रे बालों पर सुंदर दिखती हैं. जायफल का रंग ग्रे हेयर पर करने से उस का रिजल्ट ब्राउन और लाइट ब्राउन आता है जो बहुत ही सुंदर दिखता है. रैड कलर को केसर से जोड़ा है जिस में पतलेपतले स्ट्रिप्स बना कर उसे बीड्स से सजाया जा सकता है जो एक गौर्जियस लुक देता है.‘‘कौपर कलर इंडियन लुक में बहुत अधिक अच्छा नहीं समझा जाता क्योंकि ये वार्म कलर है. लेकिन, इसे हाईलाइट्स के तौर पर प्रयोग करने से इस का लुक बहुत सुंदर आता है.

गोल्ड कलर आज भी बहुत पौपुलर है और सभी उम्र की लड़कियों को सूट करता है. गोल्ड को चोटी में प्रयोग करने से एलीगैंट लुक आता है, जिसे सभी लड़कियां आसानी से कर सकती हैं. ऐसे हेयर कलर की स्टाइलिंग करना भी आसान होता है.’’ खुले बाल, चोटी, मेसी बन, जूड़ा आदि किसी भी तरह के हेयर स्टाइल इन हेयर कलर में अच्छे दिखते हैं. हेयर कलर के लिए सैलून जाना पड़ता है पर स्टाइलिंग घर पर की जा सकती है. 3 से 4 महीने तक इस का लुक अच्छा रहता है.

उम्र के हिसाब से हेयर कलर 

-यंग लड़कियों के लिए रैड ऐंड गोल्ड अधिक सुंदर दिखता है, इसे हाईलाइट्स या किसी भी रूप में लगाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें- ट्रैंडी लुक के लिए ट्राय करें ये 9 ट्रिकी टिप्स

-मिडिल ऐज के लिए रैड, ब्लौंडस और कौपर काफी अच्छा रहता है. दालचीनी के रंग का हेयर कलर भी ऐसी महिलाओं के लिए अच्छा होता है.

-जिन लड़कियों को ग्रे हेयर छिपाने हैं उन के लिए कोकम और चौकलेट कलर अच्छा रहता है, यह ग्रे को कवर करने के साथसाथ थोड़ा कलर भी हाईलाइट करता है.

स्लीवलेस पहनें बिंदास

क्या आप चाह कर भी स्लीव कपड़े पहनने से हिचकती हैं. क्या आप वैक्सिंग के दर्द से डरती हैं . क्या आपको अंडर आर्म्स शेव करना ज्यादा आसान लगता है? यदि आपके हर सवाल का जवाब हां है तो ,आप इसलिए भी परेशान रहती होंगी कि स्किन पूरी तरह से साफ नहीं होती.

अपनाए यह आसान टिप्स

1. माइल्डड सोप का प्रयोग

स्‍ट्रांग साबुन शरीर की त्‍वचा के लिए बिल्‍कुल अच्‍छा नहीं होता. यह बहुत ही हार्श होते हैं जो कि सूखापन पैदा करते हैं और ज्‍यादा पसीना निकालते हैं. सबसे अच्‍छा रहेगा कि आप नींबू मिले पानी से नहाया करें. इसके साथ ही आर्म पैड का इस्‍तमाल करें जिससे कपड़े पर पसीने या पाउडर का दाग ना पड़े.

2. हल्के डियोड्रेंट का प्रयोग-

बाजार में कई तरह के डियो आते हैं .वे दावा अंडरआर्म को सफेद कर देने का दावा भी करते हैं . पर आपको कोई भी डियो त्‍वचा पर डायरेक्‍ट नहीं स्‍प्रे करना चाहिये . इससे त्‍वचा और भी ज्‍यादा काली पड़ जाती है. केवल प्राकृतिक डियो जैसे, चंदन पाउडर या टैल्‍कम पाउडर का प्रयोग करें . यह महकदार हो और शरीर को किसी भी प्रकार का कोई नुक्‍सान भी न पहुंचाए.

ये भी पढ़ें- #lockdown: होममेड तरीकों से बनाएं ब्यूटी केयर प्रोडक्ट

3. हेयर रिमूवर-

अक्सर बगलें बालों की वजह से काली प्रतीत लगने लगती है. उस जगह को शेव करने के बाद हेयर रिमूविंग क्रीम लगाएं जिससे वह जगह बिल्‍कुल साफ हो जाए. अपने अंडरआर्म को ब्‍लीच के प्रयोग से सफेद और साफ बनाएं.

4. पसीने वाली पिट का उपचार

अपनी बगलो को पसीने से मुक्त्त्त रखने के लिए टिशू का प्रयोग करें. ताकि जिससे त्‍वचा काली न पड़े. त्‍वचा पर बेसन और मुल्‍तानी मिट्टी का प्रयोग करने से अधिक पसीना नहीं आता और अंडरआर्म साफ भी हो जाता है.

5. ढ़ीले और मुलायम कपड़े पहने

ज्‍यादा टाइट कपड़े त्‍वचा को नुक्‍सान पहुंचा सकते हैं. कपड़े का फैबरिक और उसमें इस्‍तमाल किया गया डाई आपकी त्‍वचा को नुक्‍सान पहुंचा सकता है. मलमल या फिर खादी का कपड़ा आपकी स्‍किन के लिए अच्‍छे होते हैं.

ये भी पढ़ें- 19 दिन 19 टिप्स: चंदन फेस पैक से निखर उठेगी आपकी स्किन

6. अंडरआर्म की जलन

ज्‍यादा कॉस्‍मैटिक के इस्‍तमाल से त्‍वचा में जलन होने लगती है. इसको दूर करने के लिए त्‍वचा की मालिश करनी चाहिये. मालिश करने के लिए विटामिन इ और नारियल तेल का प्रयोग करना चाहिये. इससे त्‍वचा जल्‍दी साफ होती है.

मेरे अंडर आर्म्स बहुत काले है, मैं क्या करूं?

सवाल-

 मैं 19 वर्ष की हूं. मेरे अंडर आर्म्स बहुत काले है. जिस वजह से मैं स्लीव लेस नहीं पहन पाती. क्या यह ठीक हो सकता है. कोई ऐसा उपाय बताएं जिससे यह जल्दी ठीक हो जाए?

जवाब-

आज के समय में अधिकतर लड़कियां इस प्रॉबलम को फेस कर रही है. जिस वजह से कई बार वह अपनी मन-पसंद कपड़े नहीं पहन पाती. अंडर आर्म्स काले पड़ने की कई वजह है. जैसे की हेयर रिमूवल क्रीम का यूज, रेज़र का प्रयोग, डिओ का इस्तेमाल, डेड स्किन और पासीना.

अंडर आर्म्स को गोरा करने के लिए आप किसी स्किन स्पेसलिस्ट की को दिखवा कर पील करवा सकती है. पील से आपकी त्वचा की काली परत निकलने लगती है और आपकी स्किन पहले जैसी चमकदार हो जाती है. पील के वक्त कुछ सावधानियां बरतनी पड़ती है इसलिए आप पील डॉक्टर के निगरानी में ही करवाएं.

अगर पील करवाना आपको महंगा पड़ रहा है तो आप इन घरेलू नुस्खों से भी अंडर आर्म्स के कालेपन को दूर कर सकती है.

  • बैकिंग सोडा- बैकिंग सोडा में पनि मिलाकर अंडर आर्म्स पर स्क्रब करें. इससे डेड स्किन सेल्स हट जाएगी और कालापन भी दूर हो जाएगा.
  • हल्दी- हल्दी आपकी त्वचा को सबसे ज्यादा निखारने का काम करती है. अंडरआर्म्स का कालापन दूर करने के लिए हल्दी को दूध के साथ मिलाए और उसका पेस्ट बनाकर उन जगहों पर लगाये. सूखने के बाद उसको हल्के हाथो से रगड़ ले, ऐसा करने से कालापन दूर हो जाएगा.
  • बादाम और शहद- बादाम को घिसकर इसमें एक चम्मच दूध पाउडर और शहद मिलाकर पेस्ट बना लें. इस पेस्ट से अंडरआर्म्स पर मसाज करें. ऐसा हफ्ते में 3 बार करें इससे कालापन जरूर दूर होगा.
  • फिटकरी – फिटकरी में काफी गुण पाए जाते है. फिटकरी से त्वचा का पीएच लेवल मैंटेन रहता है. इससे खुजली अधिक पसीना और त्वचा का कालापन भी दूर हो जाता है. 2 चम्मच फिटकरी पाउडर में थोड़ा सा पानी मिलाकर पेस्ट बना लें. और इसे अंडर आर्म्स पर लगा कर 15 मिनट के लिए छोड़ दें. 15 मिनट बाद इसे पानी से धो लें. आपको काफी फर्क नजर आएगा.

ये भी पढ़ें- पीरियड्स के दौरान मेरी ब्रैस्ट का साइज हैवी हो जाता है. मैं क्या करूं?

#lockdown: इन 7 टिप्स से बढ़ाएं बालों की उम्र

क्या बिना तेल बालों को स्वस्थ रखा जा सकता है ?जी हां बिलकुल रखा जा सकता है .कुछ देसी नुस्खे आजमा कर आप अपने बालों को सुंदर और मजबूत बना सकती हैं . दरअसल तेल के प्रयोग से रोम छिद्र भर जाते हैैं और बालों को चिपचिपा भी बना देता है .बालों को पोषित करने के लिए बहुत से तरीके हैं .जिन्हें अपनाकर आप अपने बालों को बिना तेल के भी काले, घने लंबे ,मुलायम और चमकदार बना सकती हैं .

1-यदि आपके बाल रूखे हैं तो शहद में पानी मिलाकर बालों में लगाए .इससे बालों का रूखापन दूर हो जाएगा.

2-अगर आपके बाल ज्यादा उलझते हैं तो नींबू के रस में अंडे की सफेदी मिलाकर बालों में 1 घंटे के लिए लगाएं .इससे बाल मुलायम बनते हैं .

ये  भी पढ़ें- 19 दिन 19 टिप्स: 200 के बजट में खरीदें ये 4 मैट लिपस्टिक

3-बालों को चमकदार बनाना चाहते हैं ,तो एक कप दूध में एक अंडा फेंटे .इस पैक को बालों में आधे घंटे के लिए लगाएं. इसके बाद बालों को धो लें.

4-दो मुंहे बालों की समस्या मैं अंडे का पैक कारगर है .सबसे पहले अपने दो मुंहे बालों का कटिंग करवाएं. उसके बाद ऐसे बालों को सही रखने के लिए ग्लिसरीन, एलोवेरा जेल और अंडे के पीले वाले भाग को मिलाकर बालों में ऊपर से लेकर नीचे तक लगाएं .और आधे घंटे बाद बालों को धो लें

5-अगर आपके बाल आयली हैं ,तो ऐसे बालों को पोषित करने के लिए दही अच्छा है .इसे बालों में लगाकर आधे घंटे के बाद शैंपू कर ले.

6-पके पपीते भी आपकी बालों को पोषण देते हैं .पपीता स्कैल्प की खुश्की को दूर कर रूसी की समस्या से निजात दिलाता है .पपीते के पेस्ट में बेसन और सेब का सिरका मिलाएं .अब इस पेस्ट को बाल और स्कैल्प पर लगाएं .आधे घंटे बाद बालों को साफ पानी से धो लें .यह ऑयली स्कैल्प और रूसी के लिए काफी असरदार होता है .

ये भी पढ़ें- #lockdown: quarantine में अपनी खूबसूरती का कैसे रखें ध्यान

7-प्रोटीन ,आयरन ,मैग्नीशियम से प्रचुर नारियल  बालों को झड़ने से रोकता है .नारियल के दूध में आधा चम्मच करी पत्ते का पाउडर और दो चम्मच संतरे का रस मिलाएं .अब इस पेस्ट को बाल और स्कैल्प  पर लगाएं .1 घंटे बाद इसे धो लें .फिर देखिए आपके बालों में जान आ जाएगी! बालों को पोषण के लिए तेल की जरूरत नहीं है .इसके बिना भी बाल चमकदार और सुंदर बन सकते हैं.